Ishwar kahan hai ,, ईश्वर कहां है?

एक कदम शिक्षा की ओर–✍️✍️✍️ 1.👉जब भूख लगे तब भगवान नही रोटी की जरूरत पड़ती है, 2.👉जब प्यास लगे तब भगवान नही पानी की जरूरत पड़ती है, 3.👉जब दम घुटने लगे तब भगवान नही हवा की जरूरत पड़ती है, 4.👉जब ठिठुरन महसूस हो तब भगवान नही गर्म कपड़े या आग की जरूरत पड़ती है, 5.👉जबपढ़ना जारी रखें “Ishwar kahan hai ,, ईश्वर कहां है?”

अंधविश्वास किसे कहते हैं? ”आओ जाने ” कबीरा कहे हे जग अंधा अंधी जैसी गाय बछडा था सो मर गया झुठी चाम चटाय

कबीरा कहे हे जग अंधा* *अंधी जैसी गाय* *बछडा था सो मर गया* *झुठी चाम चटाय* अर्थ- एक अंधी गाय थी । उसका बछड़ा मर गया । मालिक ने उसके चमड़े में भूसा भरकर बछड़े का पुतला तैयार कर दिया । गाय अंधी थी , वह बछड़े को तो देखी नहीं थी । पहले कीपढ़ना जारी रखें “अंधविश्वास किसे कहते हैं? ”आओ जाने ” कबीरा कहे हे जग अंधा अंधी जैसी गाय बछडा था सो मर गया झुठी चाम चटाय”

Create your website with WordPress.com
प्रारंभ करें